बवासीर को कैसे रोकें - bavasir se rahat kaise paye ~ wiki hindi

बवासीर को कैसे रोकें - bavasir se rahat kaise paye

दोस्तों, बवासीर मलाशय की आंतरिक दीवारों में सूजन और मुड़ नसों के बाहरी अभिव्यक्ति होते हैं। यदि आप मल को गुजरते समय दर्द और जल का अनुभव करते हैं, तो संभव है कि आपके पास अपने मलाशय के भीतर बवासीर हो। आपके पास अपने गुदा के आस पास बवासीर है तो आपको कोई चिंता करने की जरूरत नही है। जब मलाशय की दीवारों पर दबाव बढ़ जाता है बवासीर होने की संभावना बढ जाती है। ओर मोटापा, prgrency, अपचन की समस्या और व्यायाम के कमी की वजह से आपको बवासीर हो सकती है और यह बहुत दर्दनाक होती है। लेकिन आज हम इस लेख में बवासीर से राहत पाने के ऐसे तारिके लाये है । जिन्हें आजमाने से आप जल्द से जल्द बवासीर से छुटकारा पा सकते हो।


1] हेमोराहॉइड क्रीम या सपोसिटरीज का उपयोग करें

ये बवासीर से छुटकारा पाने का बहुत अच्छा तरीका है।  यदि आप पहले से ही बवासीर से पीड़ित हैं ,तो आप  ओवर-द-काउंटर  ब्लड प्रेशर क्रीम या suppositories का उपयोग कर दर्द और सूजन से छुटकारा पा सकते हैं। बवासीर के लिए यह उपचार गुदा की दीवारों के आगे घर्षण को कम करके रोकथाम के रूप में भी कार्य करता है। लेकिन इस उपाय का अक्सर उपयोग न करें। क्योंकि इससे रासायनिक निर्भरता हो सकती है। इसके बजाय, आप गुदा के दर्द और सूजन को रोकने के लिए एक गर्म पानी के स्नान में बैठ सकते हैं।
loading...


2] सही खाना खाएं

 आजकल बाजार में जो खाद्य पदार्थ आते है वो सबके सब सही है नही होते।  कुछ लोग ज्यादा मुनाफा कमाने के चक्कर मे आपको भेसड पदार्थ दे सकते है और उन पदार्थो में रासायनिक प्रोसेस हो सकती है। ओर इस पदार्थो को पहचाने ओर सही व्यक्ति से खाने के पदार्थ खरीदे जिसे आप पर्सोनल जानते है। इसलिए सही भोजन का उपभोग करने का प्रयास करें ओर फाइबर युक्त समृद्ध खाद्य पदार्थ जैसे कि फलों, सब्जियों और साबुत अनाज पर ध्यान केंद्रित करें। जिन्हें पिघलने से पहले पूरी तरह से चबाया जा सकता है। यह आपके पाचन तंत्र को स्वस्थ रखेगा, कैलोरी बढ़ने से रोकेगा और मोटापा को कम करेगा।

3] अपने आहार में फाइबर शामिल करें

दोस्तों यह भी हेमराहोइड्स को रोकने का सबसे आसान तरीका है। क्योंकि बवासीर के लिए सबसे आम कारण कब्ज है। कब्ज एक ऐसी कंडीशन है जिसमें मल से सभी पानी पूरी तरह से अवशोषित हो जाते हैं। जिसके परिणामस्वरूप मल कठोर हो जाते हैं। इसकी वजह से मलाशय की दीवारों पर और गुदा पर घुलनशील हो जाते हैं।  इसलिए उन्हें बाहर निकालना मुश्किल हो जाता है । आप अपने आहार में फाइबर पदार्थो को शामिल करके स्टूल पानी को अवशोषित करके उसे नरम बना सकते है।

4]  पर्याप्त पानी पिये

दोस्तों, पानी पीने के बहुत से फायदे होते है और पानी बवासीर से राहत पाने में महत्वपूर्ण रोल निभाता है। ओर पानी पीने से आपकी शारीरिक प्रक्रिया भी सही तरह से होगी और पाचन शक्ति के बढ़ने के साथ बवासीर से भी राहत मिलेगी। पानी ज्यादा पीने  से मल नरम होता है और बाहर निकलने में आसानी हो जाता है। इसलिए आप रोजाना हो सके उतना ज्यादा पानी पिएं।

5] तनाव से बचें

दोस्तों, जब आप आंत्र एक्टिविटी के दौरान तनाव करते हैं, तो आप गुदा की दीवारों पर अनुचित दबाव डालते हैं। यह बवासीर होने के कारणों में से एक है। अगर आप मल को पार करने में सक्षम नहीं हैं, तो टेंशन ने ले फिर से कोशिश करने से पहले एक ग्लास गरम पानी पीने की कोशिश करें। इससे आप मल को बाहर निकलकर बवासीर से राहत पा सकते है। इसके अलावा आप रात से अधिक समय तक ओवर-द-काउंटर स्टूल सॉफ्टनर को भी ले सकते हैं। जुलाब और मल softeners पर निर्भर करने के लिए इसे एक आदत मत बनाओ । क्योंकि यह "रासायनिक  निर्भरता" पैदा कर सकता है। ओवरटाइम, आंतों की सामान्य रूप से कार्य करने की अपनी क्षमता खो देता है।

6] दारू न पीयें

बवासीर को रोकने के लिए यह एक आसान तरीका है। क्योंकि  कैफीन और अल्कोहल दोनों बेहद डिहाइड्रेटिंग होते हैं और इससे मलाशय की दीवारों में भी अधिक परेशानि हो सकती है।

पढ़ें : बिना व्यायाम के पेट की चर्बी को कम कैसे करे

पढ़ें : पाचनशक्ति में सुधार कैसे करें

पढ़ें : गुर्दे की पथरी के लिये घरेलू उपचार

7] फिट रहे

यह सबसे आसान तरीकों में से एक नहीं, लेकिन फिट रहने से वास्तव में बवासीर को रोका जा सकता है । क्योंकि फिट रहने के लिए हम जॉगिंग या रनिंग करते है।  और इससे पाचनतंत्र की जो रुकावट होती है वो मुक्त हो जाती है। यह मलाशय के आंतों की मांसपेशियों को आराम करने के लिए सही मुद्रा बनाए रखने में भी आपकी मदद कर सकता है । घूमना, चलाना, साइकिल चलाना जैसे व्यायाम मोटापा को कम कर सकते हैं। जो बदले में, मलाशय की आंतरिक दीवारों पर दबाव को कम कर सकते हैं। आप ज्यादा लंबे समय के लिए कही एक जगह न बैठे जब आप काम करते हो तब ब्रेक ब्रेक में चलने की आदत डालें। इसके लिए आप अपनी गाड़ी अपने ऑफिस से दूर पार्क कर सकते है या लिफ्ट के बजाय सीढ़ियों के इस्तेमाल कर सकते है।
loading...

 8] आंत्र एक्टिविटीज का विरोध मत करना

 ये सबसे आखरी उपाय है लेकिन बाकी उपायों से कम नही है । बवासीर को रोकने के लिए एक अन्य महत्वपूर्ण बात आंत्र एक्टिविटीज का विरोध नहीं करना है। कभी-कभी, मल को पारित करने का आग्रह अनुचित समय पर होता है तब  हम इसे वापस पकड़ लेते है। जब आप ऐसा करते हैं, तो मल से पानी फिर से अवशोषित हो जाता है। जिससे मल कड़ा हो जाता है। जब आप अपने मल को रोकते रहते है तब वो मल आपके बवासीर होने का कारण बन जाता है। इसलिए आपको उस समय के भी जाकर मल को बाहर निकल देना चाहिए।

देखिए दोस्तों कभी-कभी, कुछ स्वास्थ्य स्थितियों के लिए निर्धारित दवाएं भी बवासीर का कारण बन सकती हैं। इसलिए  यदि आपकी स्थिति खराब हो जाती है या आपको रक्तस्राव का अनुभव होता है तब आप अपने डॉक्टर से इसके बारे में बात करें और उनकी सलाह लें। हम उम्मीद करते हैं कि,  बवासीर को रोकने के लिए ये आसान तरीके आपको राहत प्राप्त करने में सहायता करेंगे।
Previous
Next Post »
Thanks for your comment