अपने बच्चों को पढ़ना कैसे सिखाये - baccho ko padhana kaise sikhaye ~ wiki hindi

अपने बच्चों को पढ़ना कैसे सिखाये - baccho ko padhana kaise sikhaye

हर मा बाप अपने बच्चो से दिलो जानसे प्यार करते है और हर मा बाप अपने बच्चे को पढ़ाई में होशियार होते हुए देखना चाहते है । इसलिए हर मा बाप को अपने बच्चों को सबसे पहले पढ़ना सीखना ही होगा। इसके लिए जब आपका बच्चा छोटा होता है तो आप अपने बच्चे के सामने किसी बुक को जोर से पढ़े ताकि उसके दिल मे आपके जैसे पढ़ने की उत्सुकता बन जाएं। इसके अलावा भी अपने बच्चों को पढ़ना सिखाने के लिए हम आपके लिए बढिया तरीके लाये है जिन्हें आजमाकर आप आसानी से अपने बच्चो को पढ़ना सीखा सकते है।



बच्चों को पढ़ना कैसे सिखाएं -  baccho ko padhana kaise sikhaye

1] सबसे पहले अपने बच्चों को भाषा सिखाये

दोस्तों आपको अपने बच्चो को अपनी राष्ट्रभाषा हिन्दी सिखानी होगी और अगर आप महाराष्ट्र के है तो मराठी सिखानी होगी या अगर आप गुजरात के है तो आपको अपने बच्चो को गुजराती सिखानी होगी। इसके बाद उसे इंटरनॅशनल लैंग्वेज इंग्लिश सिखानी होगी। आप बच्चे को दोनों भाषाओं में भी सिखा सकते हैं। इससे उसे अंग्रेजी में बेहतर बोलने में सहायता मिलेगी और स्कूल शुरू होने के बाद भी बेहतर पढ़ा जा सकेगा।  इसके बाद अपने बच्चे के शिक्षक से बात करें और अपने बच्चे को एक बेहतर पाठक बनाने के लिए आप अपने प्रयासों का उल्लेख करें।
loading...

2] अपने बच्चे को दिखाएं कि आप भी एक रीडर हैं

अगर आप अपने बच्चो को दिखाते है की आप भी एक अच्छे रीडर है तो उसपर जल्दी आपका प्रभाव पड़ जायेगा । क्योंकि छोटे उम्र के बच्चे जल्द से जल्द चीजे अपने पेरेंट्स से सिख जाते है। इसलिए उसे अपने साथ लाइब्रेरी में ले जाये और उसके सामने पढ़ने की कोशिश करें। ऐसा करने से यकीनन आपका बच्चा आपको फॉलो करेगा और एक अच्छा रीडर बन जायेगा।

3] उन्हें उनकी हिसाब की बुक चुनने दें

छोटे बच्चो को स्टोरीज पढ़ना या कॉमिक्स पढ़ना पसंद आता है उस समय उन्हें टेक्नोलॉजी बुक पढ़ने के लिए फोर्स न करें जिससे वह बोर हो सकते है और वह पढ़ने से नफरत करेंगे। इसलिए अपने बच्चो को अपनी हिसाब की किताब चुनने दे ताकि उसे उस किताब को पढ़ने में मजा आएगा और वह एक अच्छा रीडर बन जायेगा।


4] उन्हें पढ़ने के लिए फोर्स न करें

अगर आप अपने बच्चो को पढ़ने के लिए फोर्स करेंगे तो वह पढ़ने को सिर्फ एक ऐसा काम मानेगे जो अपने पेरेंट्स अपनी ओर से चाहते है । इससे वह पढ़ने में दिलचस्पी नही रखेगे ओर आपके बच्चे सिर्फ आपके बहकावे में ही पढेंगे दिल से नही पढेंगे। इसलिए उन्हें पढ़ने के लिए फ़ोर्स न करें इसके बजाय आप उन्हें पढ़ने के लिए प्रोत्साहित कर सकते है।


5] पढ़ते समय उनसे सवाल पूछे

जैसे-जैसे बच्चा बड़े हो जाता है, उसे यह अनुमान लगाने के लिए कहें कि अब इस  कहानी में क्या होगा। उन्हें यह भी अनुमान लगाने के लिए कहें कि कहानी में एक विशेष कैरेक्टर एक विशेष तरीके से व्यवहार क्यों करती है। अगर ये प्रश्न कहानी के प्रवाह को तोड़ने लगते हैं तो चिंता मत करो। क्योंकि बच्चो को कहानी में दिलचस्पी लाने के लिए उन्हें अनुमान पूछना इंटरेस्टेड होता है।

6] उन्हें अपने घर के सदस्यों के उदाहरण दें

 यदि आप बच्चे को पढ़ने के लिए प्रोत्साहित करना चाहते हैं, तो आपको उनके लिए एक उदाहरण होना चाहिए। क्योंकि वे आमतौर पर अपने आसपास के वयस्कों के व्यवहार और कार्यों की नकल करते हैं।

पढ़ें : तेजी से कैसे पढ़ें

पढ़ें : बेहतर जीवन कैसे बनाएं

पढ़ें : दिमाग तेज कैसे करें


7] उसे पढ़ाने के लिए उपकरणों का उपयोग करें

दोस्तों बच्चो को किताबो से ज्यादा कम्प्यूटर या tv के माध्यम से पढ़ना पसंद आता है।  इसलिए आप अपने बच्चो के लिए एजुकेशनल डीवीडी खरीदे ओर से एजुकेशनल tv शो दिखाएं। आप किसी मैगजीन से पिक्चर्स को कट कर सकते है और उन शब्दों के साथ एडजस्ट कर सकते है तो कंप्यूटर भी सीखने के लिए अच्छा हैं।  लेकिन आपको वेबसाइटों को समझदारी से चुनना होगा। या आप अपने आसपास की लाइब्रेरी से सहायता ले सकते है।
loading...

8]  उन्हें इनाम दें

दोस्तों अगर आपका बच्चा अच्छी तरह से पढ़ने लगा है और आप चाहते है कि, आगे चलकर मेरा बच्चा एक होशियार विद्यार्थी बने तो आपको उसे पढ़ने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए उसे शाबासी के रूप में इनाम देना होगा। ऐसा करने से उसे यह लगेगा की,  मेरे पढ़ने से मेरे पेरेंट्स खुश होते है और अगर में आगे भी पढ़ता रहूंगा तो आगे भी मुझे इनाम मिलते रहेंगे।

दोस्तों यह थे बच्चो को एक अच्छा रीडर बनाने के बढिया तरीके। अगर आपको यह तरीके पसंद आये है तो इन्हें अपने उन दोस्तों के साथ शेयर करें जो अपने बच्चो को एक अच्छा रीडर बनाना चाहते है।
Previous
Next Post »
Thanks for your comment