दिमाग को शांत कैसे रखें - dimag ko shant kaise rakhe ~ wiki hindi

दिमाग को शांत कैसे रखें - dimag ko shant kaise rakhe

कभी कभी अपने कामो की तनावों की वजह से हम खुद के दिमाग को शांत नही रख पाते और इसकी वजह से हम हमारे दिमाग पर का नियंत्रण खो दी सकते है और angry हो सकते है। लेकिन हमारा क्रोध खुद के लिए अच्छा नही रहता गुस्से की वजह से हमारे साथ बुरा ही हो जाता है इसलिए हमें दिमाग को शांत रखना आना चाहिए ताकि हम कभी भी गुस्से के शिकार होकर दिमाग का नियंत्रण खो न सकें। इसलिए अगर आप अपने दिमाग को शांत रखना चाहते है तो नीचे दी गयी बातो को ध्यान से पढ़ें।


दिमाग को शांत कैसे रखें - dimag ko shant kaise rakhe

1]  वर्तमान में रहना सीखें

दोस्तों भूतकाल में घटी हुई बुरी घटना के वजह से या हमारी भविष्य की अत्यधिक चिंताओं की वजह से हमारा मन भटक सकता है और हमारी शांति भंग करके हमे गुस्से का शिकार बना सकता है। इसलिए भुतकाल को भूल जाये और भविष्य के बारे में अत्यधिक चिंता न करके वर्तमान समय का आनंद लें। दोस्तों जब आप अपना हर दिन ऐसा जिएंगे जैसे कि आखरी हो तब आप भविष्य की अत्यधिक चिंता को छोड़ देंगे और भुतकाल में घटी घटनाओं को भूल जाएंगे और अपने जीवन मे आने वाले हर समय पर एन्जॉय कर सकेंगे और दिमाग को शांत रखकर प्रेजेंट में अपना काम पूरा करके अपने भविष्य को उज्वल बनायेगे।
loading...

2] अपने आप को मान्य करें

दोस्तों दुनिया में कोई एक जैसा इंसान नही होता और आपमे जो टैलेंट है वह किसी मे नही है सिर्फ आपको अपना टैलेंट का सदुपयोग करना होगा। जब आप जीवन मे कठिन समय मे होते है तब आप उन लोगो के तरफ देखते है जो आपको बेहतर लाइफ जीने  वाले लगते है और उन्हें देखकर अपने आपको कोसते है। लेकिन ऐसा करने से आपका कुछ भी फायदा नही होगा बल्कि आप खुद पर गुस्सा होकर अपने दिमाग पर से नियंत्रण खो देंगे और अपने लाइफ को अपने आप को छोटे आदमी समझेंगे। दोस्तों इसलिए जब आप लाइफ में स्ट्रगल करते है तो उन इंसानो को पढ़ें और उनकी वीडियोस देखे जिन्होंने स्ट्रगल करके कितनी बड़ी सफलता हासिल की थी।  तभी आप स्ट्रगल के बाद कि सफलता को देख सकेंगे उसे इमेजिन करके खुश और शांत रह सकेंगे।

3] अपने आपकी दुसरो के साथ तुलना न करें

दोस्तों मैंने आपको बताया ही है कि, हर इंसान में स्पेशल टैलेंट होता है और कोई भी इंसान सेम नही होता।  इसलिए जब आप अपने आप की किसी के साथ तुलना करते है तब आप सिर्फ उसके स्पेशल टैलेंट के साथ अपनी तुलना करते है और नतीजा आपको यह लगता है कि वह आपसे बेहतर है ओर ऐसा करने से आपको दुख ही मिलता है और निगेटिव एनर्जी ही मिलती ह।  जिसकी वजह से आप अपने आप को नकारात्मक तरीके से देखते है और अपने आप को कम समझने लगते है। इसलिए दोस्तों अपनी दुसरो के साथ तुलना न करें आपको सिर्फ खुद से प्यार करना होगा और अपने अंदर का टैलेंट पहचानना होगा जिसमे आप स्पेशल है। और उस टैलेंट का इस्तेमाल अपने जीवन मे करना होगा ताकि आप अपने इंटरेस्ट का काम करके सफल बन जाये और आप अंदर से खुश होकर अपने दिमाग को शांत रख सकें। जैसे कि, अगर शाहरुख खान ने खुद की तुलना किसी इंजीनियर से की होती तो आज वह बॉलीवुड के किंग खान नही बन पाते ओर सुपर स्टार की जिंदगी जी नही पाते।

4] दुसरो को माफ करें और भूल जाये

दोस्तों हर किसी के जीवन मे ऐसा समय आता है तब कोई इंसान उसे अपमानित कर देता है या उसके दिल को चोट पहुचाता है। अगर यह समय आपके भी जीवन मे आया है और किसी ने आपको चोट पहुचाई है तो उस इंसान को माफ कर दें और उसे भूल जाये ओर उस बात को अपने जिंदगी में जगह न दें। क्योंकि अगर आप उस इंसान को नही भूलेंगे ओर माफ नही करेंगे और उस पल को अपनी जिंदगी में जगह देंगे तो आप हमेशा उस समय को याद करके गुस्सा होंगे जिस समय उस इंसान ने आपको अपमानित किया था और उसी इंसान की वजह से आप अपने दिमाग को शांत नही रख पाएंगे । इसलिए दोस्तों अपना दिल बड़ा करें और उस इंसान को माफ करके उसे भूल जाकर उसे अपने जीवन मे कोई स्थान न दें ताकि आप भुतकाल में बीती हुई बुरी घटना को भूल सकें और वर्तमान में खुश रह सकें और अपने दिमाग को शांत रख सकें।

5] परफेक्टनिस्ट होने की कोशिश मत करो

दोस्तों यकीन मानिए दुनिया मे ऐसा कोई नही है जो परफेक्ट है हर कोई इंसान सभी से कभी न कभी गलतिया होती ही रहती है। इसलिए खुद को परफेक्टनिस्ट न माने क्योंकि अगर आप कोई गलती कर देते है तो आपका दिल टूट जाएगा और आप अपने आप को बुरा मानेगे। क्योंकि तब आप खुद को परफेक्टनिस्ट मानेगे ओर कहेंगे कि मुझसे कोई गलती क्यो हो सकती है यही बात गुस्से में कन्वर्ट हो जाएगी इसकी बदौलत आप अपने दिमाग को शांत नहीं रख पाएंगे। इसलिए आप जितने हो सकें उतने प्रयास करें ओर गलतियो को सुधारने के लिए खुद को इंस्पायर करें। तभी आप अपने काम को बेहतर करके अपने दिमाग को शांत रख सकेंगे।

पढ़ें : अपने दिमाग को क्लियर कैसे करें

पढ़ें : आलस कैसे छोड़े

पढ़ें : मन को केंद्रित कैसे करें

6] अपने आप को माफ करें

दोस्तों कभी कभी हमसे भी थोड़ी सी गलती हो जाती है और वही गलती हमारा साल या कई महीने बर्बाद कर देती है। यह गलती ज्यादा पैसो की लालच से भी हो सकती है। लेकिन जब हम लोग गलती करते और 1 साल बाद उस गलती की वजह से खुद को कोसते है या खुद को दोष देकर खुद को ही बुरा भला कहते ,है तब खुद को बुरा भला कहने से या खुद को दोष देने से कोई फायदा नही होता। सिर्फ हम उस गलती को जिंदा रखते है और बार बार याद करकर गुस्सा होकर आपमे दिमाग से नियंत्रण खो देते है। इसलिए दोस्तों अगर आपने भी ऐसी गलती की है तो उस गलती को भूल कर खुद को माफ कर दे ताकि आप अपने दिमाग को शांत रख सकें।
loading...

7] आपके उन गुणों की लिस्ट बनाओ जो आपमे है

दोस्तों हर किसी मे कोई न कोई गुण होते ही है लेकिन उन गुणों को पहचानना मुश्किल होता है इसलिए सिर्फ कुछ ही लोग अपने उन गुणों को पहचान लेते है और कामयाबी हासिल करके शांत और सुखी जीवन जीते है। लेकिन कई लोग उन गुणों को पहचान नही पाते और अपनी जिंदगी को झंड बना देते है। दोस्तों अगर आप अपने उन गुणों को पहचानेंगे तब आप अपने सिद्धांतों के ओर अपने इंटरेस्ट के हिसाब से काम कर सकेंगे और उस हर काम को करते समय खुश और शांत राह सकेंगे और एक दिन उन्ही कामो की बदौलत आप नेम, फेम ओर पैसा हासिल करके एक सफल इंसान बन जायेंगे और हमेशा अंदर से खुश रहकर अपने दिमाग को शांत कर सकेगें।

दोस्तों इस तरह आप अपने दिमाग को शांत रख सकते है । अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी है तो आप इसे अपने उन दोस्तों के साथ शेयर करें जो हमेशा गुस्सा करते है और आप जिन्हें शांत देखना चाहते है धन्यवाद।
Previous
Next Post »
Thanks for your comment