परीक्षा में असफल होने का सामना कैसे करें - exam me fail hone par kya kare ~ wiki hindi

परीक्षा में असफल होने का सामना कैसे करें - exam me fail hone par kya kare

दोस्तों बहुत से विद्यार्थी स्कूल में या कॉलेज में बहुत लगान के साथ पढ़ाई करके भी परीक्षा में फेल हो जाते है और खुद को निगेटिव तरीके से देखते है और अपने जीवन से नफरत करते है। लेकिन अपनी हर असफलताओं को हमे सकारात्मक तरीके से देखना होगा।  आपको ऐसा सोचना होगा कि , असफलता सफलता की पहली स्टेप है लेकिन यह समझना और परीक्षा में असफलता का सामना करना आसान नही है।  हमे उस समय शर्मिंदगी, नाराजगी ओर घरवालों के डर महसूस हो सकता हैं। लेकिन हमें शर्मिंदगी ओर डर।  को छोड़कर उस असफलता से सिख लेनी चाहिए जैसी एडिसन ने ली थी और अपने उज्वल भविष्य के लिए इस कंपीटिशन में अपने अनुभव के साथ मेहनत करनी होगी। दोस्तों अगर आप परीक्षा में असफल हो गए है तो आप इन तरीकों के सहारे असफलता का सामना कर सकेंगे।



परीक्षा में असफल होने का सामना कैसे करें - exam me fail hone par kya kare

1] अपने निगेटिव विचारों को पहचाने

दोस्तों परीक्षा में फेल होने के बाद अपने आप आपके दिमाग मे निगेटिव विचार आते है। इसलिए आप खुद से नफरत करने लगते हो अपने आप को ब्लेम करते हो और अपने जीवन को इतनी सी चीज की वजह से नकारात्मक दृष्टि से देखने लगते हो। इसलिए आप अपने नकारात्मक विचारों को पहचाने। जैसे कि में कभी इस परीक्षा में पास नही हो सकता, में दुसरो के जैसे होशियार नही हूँ, ऐसे ही कई नकारात्मक विचार आपके मन मे आ जाते है । आपको इन्हें पहचानना होगा और सफलता पाने के लिए उन विचारों का रूपांतरण सकारात्मक विचारों में करना होगा।
loading...

2]  खुद को बताएं कि यह टेम्पोररी है

दोस्तों ऐसा कौन नही है कि,  जिसने उसके कामो में असफलता नही देखी। सभी बड़े लोगो ने यहां तक कि सलमान खान , अक्षय कुमार इन्होंने भी अपने कामो में असफलता देखी थी। लेकिन जब आप परीक्षा में असफल हो जाते है तो आप उस असफलता को अपना जीवन मत बनाये ओर उस असफलता को लेकर ही जीवनभर मत रोये।  यह सिर्फ टेम्पोररी असफलता होती है जो आपको समझनी चाहिए। और यह बात भी समझनी चाहिए कि, मेरा जीवन बहुत बड़ा है और मुझे इस बात से बहुत बड़े बड़े कार्य करने है । इसलिए उस असफलता को टेम्पोररी ओर छोटीसी गलती मान कर अपने आने वाली एग्जाम की बिना तनाव के तैयारी करें और उस एग्जाम में  टॉप करके झेंडे गाड़ लें।


3] अपनी असफलताओं से सिख लें

दोस्तों शायद आप नही मानेंगे अपनी असफलताएं हमे वह बाते सीखा देती है जो बाते हमे कोई भी बड़ा टीचर सीखा नही सकता। अगर आप अपने असफलता को तनाव न बनाकर उससे अनुभव लेंगे और उस असफलता से सिख लेंगे तब आपको अपने फील्ड में सफल होने के लिए दुसरो से ज्यादा अनुभव मिलेगा। इसलिए आप अपनी असफलता को एनालाइज करें और देखे की उसमे क्या सही था और क्या गलत था ? मैंने ऐसी को कोनसी गलतिया की थी उनके वजह से में असफल हुआ हूँ। दोस्तों में यही कहना चाहता हु की, थॉमस एडिसन जब 1000 बार असफल हुआ तो उसने यह नही सोचा था कि में 1000 बार असफल हुआ हूं,  बल्कि उसने यह सोचा था कि मैंने बल्ब को न बनाने के 1000 तरीकों का शोध लगाया है। तब जाकर आज उसने पूरी दुनिया को रोशनी दी है। इसलिए आप उस समय अपनी असफलता को एनालाइज करके उससे सिख लें।

4] अपने रोल मॉडल को देखें

दोस्तों हर कोई अपनी जीवन मे उसके कामो में असफल हुआ है और उस असफलता के बाद ही उसने सफलता प्राप्त की है। दोस्तों आप सिर्फ स्टीव जॉब को एक एप्पल कंपनी का मालिक एक सफल बिजनेस मैन के रूप में देखते है। लेकिन आप यह नही देखते की इस मुकाम तक पहुचने के लिए उसने कितनी ठोकरे खाई है उसने कितनी असफलाओ को फेस किया है। जब उसको उसकी ही कंपनी से निकाल दिया था तब वह सिर्फ अपने आप को कोसता रहता तो अब एप्पल कंपनी नही रहती। इसलिए दोस्तों उस समय आप अपने रोल मॉडल्स की स्टोरीज पढ़ें और उनसे मोटिवेट लें ताकि आप अपनी असफलाओ के कारण नकारात्मक विचारों के शिकार न हो ।


5] रिटायर मत बनो प्रेजेंट में रहो

दोस्तों जब हम हमारी परीक्षा में असफल हो जाते है तो हम उस फील्ड को छोड़ देने का फ़ैसला कर देते है और अपना जो अनुभव था वह फालतू में गवा देते है और दूसरी फील्ड में काम को बिना अनुभव के साथ करते है या हम अपने काम से आराम लेते है। लेकिन वह लोग अपनी लाइफ में कभी भी सफल नही बन पाते ओर दूसरे फील्ड में भी असफलाओ की ठोकरे खाते है। इसलिए दोस्तों असफल होने के बाद आपको प्रेजेंट में ही रहकर अपना काम करना होगा और इसके बारे में अनुभवी दोस्तों की सलाह लेनी होगी।

6] अपनी स्टडी मेथड की रिव्यु करें


दोस्तों आपकी असफलता की वजह आपकी गलत स्टडी मेथड भी हो सकती है।  इसलिए हमें अपनी पढ़ाई करने की टेकनीक को बदलनी होगी और अपनी पढ़ाई पर ज्यादा फोकस करना होगा। और कभी भी दूसरों की तुलना खुद से न करें।  क्योंकि ऐसा करने से सिर्फ नकारात्मक भावना आती है। क्योंकि हर इंसान की स्पेशल स्किल होती है कोई भी समान नही होता। आप उस सब्जेक्ट को चुने जो आपको पसंद है और जिस विषय मे आप माहिर हो सकते है।
loading...


7] आत्मसम्मान बनाए रखें

दोस्तों असफलता आपके आत्म सन्मान को कम कर सकती है लेकिन आपको उस असफलता को पर्सोनल नही लेना होगा और हिम्मत नही खोनी होगी। जब आप फेल हो जाते है तो अपने आप को लज्जित न करो और अपना  आत्मसन्मान खोने न दो। दोस्तो हम जानते है कि, इस स्थिति से निपटने के लिए बहुत स्ट्रगल करना पड़ता है।  फिर भी आप यह सोचे कि, इस छोटी से असफलता की वजह से खुद की वैल्यू कम नही होती। उस समय आप उन लोगों के साथ रहे जो आपको सपोर्ट कर सकते है।

पढ़ें : अंग्रेजी कैसे सीखें

पढ़ें : बेहतर विद्यार्थी कैसे बनें

पढ़ें : लर्निंग स्किल कैसे डेवेलोप करें

8] इसके बारे में बता दें

दोस्तों जब आप कोई भी असफलता हो या कोई भी डर को किसी के साथ शेयर नही करते और उसे अपने दिल मे ही दबाए रखते है तो आप उस दर्द को बड़ा कर देते हो और उस दर्द की वजह से तनाव में रहने लगते है। इसलिए अपने दर्द के बारे अपने दोस्तों के साथ या परिवार के लोगो के साथ बात लें और अपने दिल को खाली कर दें।  ऐसा करने से वह आपकी मदद कर सकते है वह आपके उस दर्द को दूर कर सकते है।  और वह आपको उनका अनुभव दे सकते है जो आपके लिए उपयोगी है। आप ऑनलाइन ग्रुप के साथ भी इस बातो को शेयर करके उनसे मदद ले सकते है। आप यह याद रखे कि, यह असफलता अपने जीवन के लिए मायने नही रखती। आपको आगे भी बहुत असफलाओ का सामना करना पड़ेगा।  लेकिन सफलता पाने के लिए आपको अपने जीवन को खेल की तरह देखना होगा।

दोस्तों इस तरह आप अपने असफलाओ का सामना कर सकते है   अगर आपको यह लेख पसंद आया है तो आप इसे अपने उन दोस्तों के साथ शेयर करें जो अपनी असफलाओ का सामना करना चाहते है।
Previous
Next Post »
Thanks for your comment