अपने कर्मचारी के खिलाफ शिकायत कैसे दर्ज करें - apane employer ke khilap complaint kaise kare

जब हम ऑफिस में जॉब करते है तब सभी कर्मचारी अच्छे या एक जैसे नही होते कुछ कर्मचारियों का व्यवहार ऐसा होता है जो हमे उनकी शिकायत करने के लिए मजबूर करता है। जब आप इस तरह से कुछ अनुभव करते हैं, तो शिकायत दर्ज करना महत्वपूर्ण है ताकि गलत कार्य को ठीक करने के लिए आवश्यक कदम उठाए जाएंगे। शिकायत करने से आप आपके प्रति उन कर्मचारियों क्व उस तरह के व्यवहार को भी रोक सकते है। यदि आप अपने नियोक्ता के खिलाफ शिकायत दर्ज करने की योजना बना रहे हैं, तो नीचे दिए गए तरीको को ध्यान से पढ़ें ताकि आप सही तरह से कर्मचारी की शिकायत करके उसके bad behavior को रोक सकें।


अपने कर्मचारी के खिलाप शिकायत कैसे दर्ज करें - apane employer ke khilap complaint kaise darj kare

1] स्थिति का आकलन करें

यदि आपके पास कुछ सह-कार्यकर्ता हैं जो आप पर भरोसा कर सकते हैं, तो आप अपनी स्थिति के बारे में उनसे चर्चा कर सकते हैं ताकि आप इस मामले के बारे में उनकी राय पा सकें। दोस्तों जब आप उनसे इसके बारे में बात करेंगे तो वह आपकी शिकायत को मजबूत भी बना सकते है। इसलिए आप अपने पर्यवेक्षक से इसके बारे में बात करे और स्थिति का आकलन करें।

2] घटना रिपोर्ट लिखें

दोस्तों जिस समय किसी कर्मचारी से बुरा व्यवहार किया था उसी घटना की रिपोर्ट लिख दें ताकि समझने में आसानी हो। अपनी घटना की रिपोर्ट छोटी लेकिन विस्तृत रखें। उसमे उस घटना की तारीख , समय शामिल करें इसके साथ साथ अपने गवाहों के नाम भी लिखे जिन्होंने वह घटना देखी थी। अगर आपके पास उस घटना के आधारित मेसेजेस, ईमेल, रिकार्डेड प्रूफ है तो उसे भी तो अपने कार्यालय के मानव संसाधन विभाग को घटना रिपोर्ट के साथ एक साथ जमा करें।

3] मानव संसाधनों को सूचित करें

जब आपने उस घटनाओ के बारे में मानव संसाधन को बता दिया है तो आपको उन्हें इसके बारे में शुचित करते रहना होगा ताकि उनका ध्यान आपकी तरफ खिंच जाए। इसलिए इसे तुरंत करें ताकि वह आपको अपने दावे का समर्थन करने के लिए एक घटना रिपोर्ट तैयार करने के लिए कहेंगे।

4] अपनी शिकायत दर्ज करें

आप समान रोजगार अवसर आयोग के साथ अपनी शिकायत भी दर्ज कर सकते हैं  क्योंकि यह संघीय विभाग है जो कानून लागू करने के प्रभार में होता है। घटना के 6 महीने के भीतर आपकी शिकायत वैध होने के लिए आप अपनी प्रश्नावली व्यक्तिगत तौर पर फोन या ईमेल के माध्यम से भर सकते हैं।


5] वकील से बात करे

 जब आप अपने मानव संसाधन डिपार्टमेंट के साथ शिकायत दर्ज करते हैं, तो आपको उनसे सुनने के लिए कम से कम 10 दिन प्रतीक्षा करनी होगी क्योंकि जांच के बाद वे आपकी शिकायत पर फैसला लेने में समय लगता है। अगर वह कहते हैं कि आपका नियोक्ता कानूनों का उल्लंघन कर रहा है, तो जांच के लिए 3 से 4 महीने लगते है। इस दौरान वह आपको  मुकदमा करने का अधिकार भेज देंगे तब आप एक वकील से बात करके उससे सहायता प्राप्त कर सकते है।

 आप अपने नियोक्ता के खिलाफ शिकायत दर्ज करना चाहते हैं आपकी शिकायत दर्ज करने के बाद, आपके नियोक्ता को आप को फायरिंग या आपसे अन्याय से व्यवहार करने से आपके खिलाफ प्रतिलिपि नहीं करना चाहिए यदि ऐसा होता है, तो तुरंत अपने वकील से संपर्क करें ताकि आवश्यक कार्य किया जा सके।  क्योंकि हर किसी से छोटी बड़ी गलतिया होती ही है । इसलिए ध्यान में रखकर शिकायत करें कि उसे गुनाह से बड़ी सजा न मिले।
Previous
Next Post »
Thanks for your comment